Samridh Samachar
News portal with truth
- Sponsored -

- Sponsored -

AIMRA ने वनप्लस उत्पादों के बहिष्कार का किया आह्वान, झारखंड सचिव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी जानकारी

1,412
Below feature image Mobile 320X100

झारखंड : ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर एसोसिएशन झारखंड सचिव अमृत दास ने कहा कि ऐमरा झारखंड टीम ने अपने सदस्यों की सहमति से 1 मई, 2024 से वन प्लस उत्पादों की बिक्री बंद करने के सामूहिक निर्णय की घोषणा की है। यह निर्णय कई अनसुलझे मुद्दों के जवाब में आया है।

अमृत दास ने बताया कि ऐमरा झारखंड ने ब्रांड की नीतियों के संबंध में चिंताओं को दूर करने के लिए वन प्लस के साथ बातचीत करने का प्रयास किया है, लेकिन हमारे प्रयासों पर चुप्पी साध ली गई, जिससे हमारे पास यह निर्णायक कार्रवाई करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा।

विज्ञापन

विज्ञापन

वनप्लस के खिलाफ प्राथमिक शिकायतों में शामिल हैं:

1. परिचालन रणनीति: वनप्लस मुख्य रूप से अपनी इन्वेंट्री का एक महत्वपूर्ण हिस्सा ऑनलाइन भागीदारों को आपूर्ति करता है, जिससे एग्रीगेटर्स को इन भागीदारों से उत्पाद प्राप्त करने और उन्हें ग्रे मार्केट चैनलों के माध्यम से खुदरा विक्रेताओं और उपभोक्ताओं को वितरित करने का सुनहरा मौका मिल जाता है। ब्रांड को पता है कि उनकी कार्यप्रणाली अप्रत्यक्ष रूप से मेनलाइन चैनलों में उत्पादों की कमी पैदा करके ग्रे मार्केट के विकास को बढ़ावा देती है, जिसके परिणामस्वरूप कर अधिकारियों को राजस्व हानि होती है।

2. रोजगार एवं उद्यमी सृजन का अभाव: रोजगार सृजन में योगदान देने के अवसरों के बावजूद, वनप्लस इस संबंध में पर्याप्त प्रयास करने में विफल रहा है। वितरक नेटवर्क स्थापित करने में ब्रांड की अनिच्छा सीधे उद्योग के भीतर उद्यमी संभावनाओं को प्रभावित करती है और प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रोजगार सृजन में भी शामिल नहीं होती है।

3. विलंबित दावा निपटान: खुदरा विक्रेताओं को दावा निपटान में लंबे समय तक देरी का अनुभव हुआ है, जिससे वे अपने निवेश के लिए समय पर मुआवजे से वंचित हो गए हैं। इस तरह की प्रथाएं खुदरा विक्रेताओं की वित्तीय स्थिरता को कमजोर करती हैं और ब्रांड में विश्वास को कम करती हैं।

4. खराब उत्पाद गुणवत्ता: घटिया उत्पाद गुणवत्ता के उदाहरण, जैसे फ़ोन स्क्रीन पर हरी खड़ी रेखाओं का दिखना, कई ग्राहकों द्वारा रिपोर्ट किया गया है। यह गुणवत्ता मानकों से समझौता करने की चिंताजनक प्रवृत्ति को दर्शाता है, जो खुदरा विक्रेताओं और उपभोक्ताओं दोनों के लिए अस्वीकार्य है।

ऐमरा झारखंड के श्री अमृत ने बताया कि इन मुद्दों के आलोक में, ऐमरा वनप्लस के व्यापार लाइसेंस को तत्काल रद्द करने की मांग करता है और उपभोक्ताओं से वनप्लस उत्पादों को खरीदने से परहेज करके नैतिक खुदरा प्रथाओं का समर्थन करने का आह्वान करता है।

ऐमरा, झारखंड के सचिव अमृत दास ने कहा कि ब्रांड और उसके संचालन से जुड़े इन मुद्दों को हल करने और खुदरा समुदाय के भीतर विश्वास के पुनर्निर्माण के लिए वन प्लस के साथ रचनात्मक बातचीत में शामिल होने के लिए प्रतिबद्ध है। ओरा इंडिया जिनके अपने 4500 स्टोर्स देशभर में है और वनप्लस के खिलाफ सख्त रुख अपना लिया है और उनके साथ एकजुटता दिखाते हुए, ऐमरा झारखंड ने एकजुट होकर राज्य भर में वनप्लस का संपूर्ण बहिष्कार करने का फैसला किया है, जब तक कि उठाए गए शिकायतों के समाधान के लिए सार्थक कदम नहीं उठाए जाते। तब तक बहिष्कार जारी रहेगा।

href="https://chat.whatsapp.com/IsDYM9bOenP372RPFWoEBv">

ADVERTISMENT

GRADEN VIEW SAMRIDH NEWS <>

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Before Author Box 300X250