Samridh Samachar
News portal with truth
- Sponsored -

- Sponsored -

तिसरी में गहराने लगा है जलसंकट, चंदा जुटाकर पानी का टैंकर मंगवा रहे हैं ग्रामीण

700
Below feature image Mobile 320X100

तिसरी : प्रखंड में गर्मी की शुरुआत में ही पेयजल संकट गहराने लगा है. प्रखंड मुख्यालय में पेयजल की भारी समस्या हो रही है. स्थिति यह है कि तिसरी थाना के समीप रहने वाले लोग सुबह से ही किसान भवन स्थित चापानल पर बाल्टी व डब्बे लेकर पहुंच जाते हैं और फिर एक – एक कर वे लोग दिन भर के लिए पानी इकट्ठा कर उसे साइकल या माथे पर लादकर घर चापानल ने भी धीरे – धीरे जवाब देना शुरू कर दिया है, जिससे इनलोगों के समक्ष पेयजल की भारी समस्या उत्पन्न हो गयी है.

बुधवार को स्थानीय ग्रामीणों आपस में चंदा कर टैंकर से पानी मंगवाया. तब जाकर इनके घरों में एक दिन के लिए पानी की व्यवस्था हो सकी. लेकिन रोजाना ऐसा करना सम्भव नहीं है. स्थानीय विजय कुमार ने कहा कि नल जल योजना द्वारा इन्हें कुछ दिनों तक पानी कि सप्लाई की गई थी, पानी की सप्लाई बंद होने के बाद स्थिति दयनीय है. ऐसा ही हाल तिसरी के मुस्लिम टोला, शर्मा टोली और बाजार पर का भी है.

बीते 8 दिनों से पेयजल की सप्लाई नहीं होने लोगों को बड़ी परेशानी हो गयी है. पेयजल के लिए इन्हें भी सुबह से ही घर से दूर स्थिति चापानल पर कतार लगानी पड़ती है. तब जाकर पीने लायक पानी मिल पाता है. मुस्लिम टोला के रहने वाले आशिक अंसारी ने बताया कि कई दिनों से पानी की सप्लाई नहीं मिलने के कारण उन लोगों के समक्ष पेयजल की भीषण समस्या उत्पन्न हो चुकी है. लोगों के घरों को अब तक नल जल योजना से नहीं जोड़ा गया है.

गर्मी के शुरुआत में ही गहराने लगा पेयजल संकट,नल जल योजना पर सवाल

विज्ञापन

विज्ञापन

गर्मी की शुरुआत से ही प्रखंड मुख्यालय में पेयजल संकट गहराने लगा है, सुदूरवर्ती क्षेत्रों की तो बात ही छोड़ दीजिए. थाना के समीप रहने वाले लोगों ने बताया कि उन्हें कुछ दिनों तक नल जल योजना से पीने योग्य पानी मिल जाता था, लेकिन कुछ गड़बड़ी आ जाने के कारण आपूर्ति बाधित हो गई थी. जिसपर स्थानीय मुखिया ने उसे बनवाया भी, लेकिन स्थिति ज्यों की त्यों है. जानकारी के अनुसार बूटबरिया गांव में 8 हजार लीटर,5 हजार लीटर और 2 हजार लीटर की कुल 5 टंकियां लगवाई गई हैं, लेकिन थाना और हनुमान मंदिर के आस – पास के लोगों को नियमित रूप से पेयजलआपूर्ति नहीं हो पा रही है.

मोटर जल जाने के कारण विगत 8 दिनों ने बंद है पेयजल आपूर्ति

बताते चलें कि पीएचईडी विभाग द्वारा रीजनल स्थित कुंए में मोटर लगाकर मुख्यालय में पेयजलआपूर्ति की जाती है. विगत 8 दिनों से मोटर जल जाने के कारण पेयजलआपूर्ति पूरी तरह बाधित हों चुकी है. ऐसे में जिनके पास जल स्रोत का साधन नहीं है उनके लिए विकट स्थिति उत्पन्न हो गई है.

इस संबंध में तिसरी पंचायत के मुखिया किशोरी साव ने बताया कि मोटर जल जाने के कारण पानी की सप्लाई बाधित हुई है. मोटर बनवाने में बहुत अधिक खर्च है. क्षेत्र के कई लोगों का पानी का बिल भी बकाया है. जिसके कारण मोटर बनवाने में परेशानी हों रही है. उन्होंने लोगों से अपने बकाया बिल को जमा करने की अपील की है.

href="https://chat.whatsapp.com/IsDYM9bOenP372RPFWoEBv">

ADVERTISMENT

GRADEN VIEW SAMRIDH NEWS <>

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Before Author Box 300X250